Friday, July 19
Shadow

Uttarakhand Weather: जोशीमठ में हुई भारी बर्फबारी, पढ़ें अगले एक हफ्ते कैसा रहेगा मौसम का हाल

Uttarakhand Weather Update today: मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक विक्रम सिंह ने बताया कि अगले 24 घंटे में 2500 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी की संभावना है। पर्वतीय इलाकों में बारिश और बर्फबारी का असर मैदानी क्षेत्रों में भी दिखाई देगा।

जोशीमठ में भू-धंसाव के बीच शुक्रवार को भारी बर्फबारी हुई। बर्फबारी के चलते समूचा इलाका बर्फ की सफेद चादर से ढक गया। आलम ये है कि ठंड और बर्फबारी की वजह से लोग अपने घरों में रहने को मजबूर हो गए हैं।

मौसम विभाग ने उत्तरकाशी और पिथौरागढ़ में भी बर्फबारी की संभावना जताई। मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से मौसम में बदलाव देखने को मिलेगा। मौसम विभाग की रिपोर्ट के अनुसार मुक्तेश्वर में लगातार दूसरे दिन न्यूनतम तापमान एक डिग्री दर्ज किया गया।

वहीं, पंतनगर में न्यूनतम तापमान पांच डिग्री रहा। अधिकतम और न्यूनतम तापमान में भारी कमी के चलते मैदान से लेकर पहाड़ तक जबरदस्त ठंड पड़ रही है। मौसम विभाग के अनुसार अगले एक सप्ताह तक ठंड से राहत नहीं मिलने वाली है।

मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक विक्रम सिंह ने बताया कि अगले 24 घंटे में 2500 मीटर से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी की संभावना है। पर्वतीय इलाकों में बारिश और बर्फबारी का असर मैदानी क्षेत्रों में भी दिखाई देगा। ऐसे में मैदानी क्षेत्रों में ठंड बढ़ने की पूरी संभावना है। 23 से 26 जनवरी तक मैदान से लेकर पहाड़ तक तेज गर्जना के साथ जोरदार बारिश और बर्फबारी की पूरी संभावना है। ऐसे में राज्य सरकार, शासन और जिला प्रशासन स्तर पर सतर्क रहने की जरूरत है।

आज दून में जबरदस्त ठंड पड़ने के आसार
दून में ठंड लगातार बढ़ती जा रही है। शुक्रवार को भी अधिकतम तापमान 15 डिग्री तक पहुंचने के आसार हैं। ऐसे में मौसम विभाग ने लोगों से सतर्क रहने को कहा है। राजधानी दून व आसपास के इलाकों में बृहस्पतिवार को लोगों को जबरदस्त ठंड का सामना करना पड़ा। मौसम के बदले मिजाज के चलते राजधानी में अधिकतम तापमान 2.2 डिग्री गिरकर 17.8 डिग्री पर पहुंच गया और शहरियों को दिन में भी जबरदस्त ठंडक का सामना करना पड़ा।

न्यूनतम तापमान 8.7 डिग्री रहा। अधिकतम और न्यूनतम तापमान के बेहद कम अंतर के चलते ठंडक ने परेशान कर दिया है। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटे ठंड और परेशान कर सकती है। इतना ही नहीं एक सप्ताह यानी 26 जनवरी तक ठंड से फिलहाल बहुत अधिक राहत नहीं मिलने वाली है। राजधानी व आसपास के इलाकों में 23 से 26 जनवरी तक बारिश के आसार हैं।

कड़ाके की ठंड में बरतें सावधानी, नहीं तो हो सकते हैं बीमार
चिकित्सा विशेषज्ञों का कहना है कि पिछले दो दिनों से जिस तरह जबरदस्त ठंड देखने को मिल रही है। उसे देखते हुए लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है। ठंड से बचने के पूरे इंतजाम करें, नहीं तो बीमार पड़ सकते हैं। बच्चों और बुजुर्गों को खास एहतियात बरतने की जरूरत है। वरिष्ठ फिजीशियन डॉक्टर केसी पंत के मुताबिक पर्याप्त गर्म कपड़े पहनकर ही घर से बाहर निकलना उचित है।

42 स्थानों पर जलाए गए अलाव
लगातार बढ़ रही ठंड से राहत पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन ने शहर के 42 स्थानों पर अलाव जलाए हैं। इनमें आईएसबीटी, निरंजनपुर मंडी, रेलवे स्टेशन, घंटाघर, दिलाराम चौक, मंसूरी डायवर्जन, साई मंदिर, राजपुर बस स्टैंड, परेड ग्राउंड, कनक चौक, सर्वे चौक, दून हॉस्पिटल चौक, आराघर चौक, रिश्पना पुल, अजबपुर चौक, देहराखास चौक, बल्लूपुर चौक, बल्लीवाला चौक, आईटी पार्क, सहस्रधारा चौक, महाराणा प्रताप चौक, रायपुर, छह नंबर पुलिया, तुनवाला चौक, मियांवाला चौक, हर्रावाला चौक, शनि मंदिर चौक, किशन नगर चौक, कनाट प्लेस हनुमान मंदिर के पास, प्रेमनगर, डोभाल चौक, एकता विहार धरना स्थल, ब्रह्मपुरी चौक, रैन बसेरा लालपुल, रैन बसेरा ट्रांसपोर्टनगर, रैन बसेरा चूना भट्टा, बंगाली कोठी चौक, लोकायुक्त कार्यालय के निकट पटेलनगर, रैन बसेरा चुक्कू मोहल्ला, पुलिस लाइन, सुमन नगर, आईएसबीटी टैक्सी स्टैंड, गोविंद विहार व बीजापुर गेस्ट हाउस शामिल हैं।