Thursday, July 25
Shadow

Uttarakhand Weather: कमजोर पड़े मानसून ने फिर पकड़ा जोर, उत्तराखंड में आज गरज चमक के साथ बारिश

Uttarakhand Weather उत्तराखंड में कमजोर पड़ रहा मानसून एक बार फिर से तेजी पकड़ रहा है। मंगलवार को प्रदेश के अधिकतर जिलों में बारिश की संभावना है। वहीं मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार बुधवार से फिर से वर्षा का क्रम गति पकड़ सकता है। फिलहाल मानसून की विदाई सामान्य समय सितंबर अंत तक ही होने की उम्मीद है। बारिश से एक बार फिर लोगों को परेशानी हो सकती है।

उत्तराखंड में उत्तराखंड में कमजोर पड़ा मानसून फिर जोर पकड़ सकता है। मंगलवार को एक बार फिर से बारिश के आसार नजर आ रहे रहैं। प्रदेश के कई जिलों में आज बारिश की संभावना मौसम विभाग ने जताई है। दरअसल उत्तराखंड में मानसून कमजोर पड़ रहा था, लेकिन इसी बीच उत्तर भारत में अगले कुछ दिनों में चक्रवाती प्रवाह तेज होने और निम्न दबाव क्षेत्र बनने से यहां झमाझम बारिश के आसार हैं।

मानसून सीजन में अब तक सामान्य वर्षा दर्ज की गई, लेकिन बीते एक सप्ताह में प्रदेश में सामान्य से भी 90 प्रतिशत कम वर्षा हुई है। अब दोबारा प्रदेश में मानसून की भारी वर्षा के आसार हैं। अनुकूल परिस्थितियां बनने के कारण प्रदेश में आगामी छह से 13 सितंबर तक ज्यादातर क्षेत्रों में वर्षा का दौर तेज हो सकता है। जबकि नौ से 12 सितंबर के बीच कुछ क्षेत्रों में भारी वर्षा की आशंका है।

23 जून को मानसून ने दी थी दस्तक

उत्तराखंड में इस बार 23 जून को मानसून ने दस्तक दी। हालांकि, शुरुआत में वर्षा का क्रम धीमा रहा। पूरे जून में प्रदेश में मेघ सामान्य से 14 प्रतिशत कम बरसे थे। इसके बाद जुलाई में शुरुआत से ही मानसून की वर्षा ने जोर पकड़ लिया। ज्यादातर क्षेत्रों में मूसलाधार वर्षा और कहीं-कहीं बौछारों का क्रम बना रहा। जुलाई में प्रदेश में औसत वर्षा सामान्य से 32 प्रतिशत अधिक दर्ज की गई।

कभी तेज कभी धीमी होती रही बारिश

इसके बाद अगस्त में शुरुआती तीन सप्ताह कई जिलों में भारी वर्षा आफत बनी रही, लेकिन अंतिम सप्ताह में मानसून कमजोर पड़ गया और सितंबर की शुरुआत तक भी प्रदेश में बेहद कम वर्षा दर्ज की गई। हालांकि, मानसून सीजन में एक जून से अब तक कुल औसत वर्षा 1055 मिमी दर्ज की गई, जोकि सामान्य वर्षा (1018 मिमी) से चार प्रतिशत अधिक है।

अब फिर होगी झमाझम बारिश

अब मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार बुधवार से फिर से वर्षा का क्रम गति पकड़ सकता है। फिलहाल मानसून की विदाई सामान्य समय सितंबर अंत तक ही होने की उम्मीद है। मंगलवार को भी प्रदेश के अधिकतर जिलों में बारिश की संभावना है।