Friday, July 19
Shadow

13 किसानों का दल हिमाचल के भ्रमण को रवाना

हिमाचल में विभिन्न संस्थाओं में बागवानी का करेंगे अध्ययन

देहरादून। सहकारिता मंत्री उत्तराखंड डॉ धन सिंह रावत के द्वारा सहकारिता विभाग के अधिकारियों को समीक्षा बैठक में निर्देश दिए गए थे प्रदेश के उत्कृष्ट किसानों को विभिन्न राज्यों में अध्ययन भ्रमण के लिए भेजा जाए जिस के क्रम में शुक्रवार को पहले दल को देहरादून मियां वाला निबंधक मुख्यालय से 13 किसानों का दल हिमाचल के लिए आज बृहस्पतिवार सुबह दस बजे पांच दिवसीय अध्ययन भ्रमण पर रवाना हुआ। रवाना किया गया यह अध्ययन भ्रमण सहकारिता विभाग के प्रादेशिक कोऑपरेटिव यूनियन के माध्यम से भेजा जा रहा है। अध्ययन भ्रमण के पश्चात यह सभी किसान अपने जनपदों में गोष्टी के माध्यम से अन्य किसानों को भी प्रशिक्षण देंगे। सहकारिता मंत्री  का यही उद्देश्य है कि उत्तराखंड के किसानों की आय को दोगुना से भी अधिक बढ़ाया जा सके सहकारिता विभाग के द्वारा प्रत्येक जनपद से दो उत्कृष्ट मॉडल किसानों को अध्ययन भ्रमण हेतु भेजा जा रहा है इन किसानों का चयन सभी जनपदों के जिलाधिकारी की अध्यक्षता में चयन कमेटी द्वारा किया गया है। निबंधक मुख्यालय मियांवाला में आज अपर निबंधक ईरा उप्रेती संयुक्त निबंधक एमपी त्रिपाठी  द्वारा 13 सदस्यीय किसानों के दल को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया  इस अवसर पर प्रबंध निदेशक प्रादेशिक कोऑपरेटिव यूनियन श्री  मान सिंह सैनी भी उपस्थित रहे। प्रादेशिक कोऑपरेटिव यूनियन के प्रबंध निदेशक मानसिंह सैनी ने बताया किसानों का यह दल पहले दिन 27 तारीख को  सोलन स्थित डॉक्टर वाई एस परमार यूनिवर्सिटी का भ्रमण करेंगे उसके पश्चात द्वितीय दिवस पर रीजनल हॉर्टिकल्चर रिसर्च और ट्रेनिंग स्टेशन शिमला में अध्ययन करेंगे और 29 अक्टूबर को कृषि विज्ञान केंद्र शिमला का भ्रमण कर  किसानों के पर्वतीय फल सेब  कीवी के बगीचों में ग्राउंड जीरो पर अध्ययन करेंगे उसके पश्चात दूसरा दल 28 अक्टूबर को गुजरात को हवाई मार्ग से रवाना किया जाएगा जहां दुग्ध दुग्ध उत्पादों के क्षेत्र में किसानों के द्वारा अध्ययन भ्रमण किया जाएगा। अध्ययन भ्रमण पर जा रहे किसानों ने सहकारिता मंत्री और सहकारिता विभाग की भूरि भूरि प्रशंसा की किसानों ने कहा उत्तराखंड में यह पहली बार है जब किसानों को अध्ययन भ्रमण पर भेजा जा रहा है इस अध्ययन भ्रमण के परिणाम निश्चित ही किसानों के लिए लाभकारी होंगे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *