Thursday, July 25
Shadow

भारत और पाकिस्तान के बीच ऐसे हो सकता है एशिया कप का फाइनल, जानिए समीकरण

IND vs PAK Final in Asia Cup 2023 Final : एशिया कप के इतिहास में कभी ऐसा नहीं हुआ कि भारत और पाकिस्तान के बीच फाइनल मुकाबला खेला गया हो, लेकिन इस बार ऐसा समीकरण बन रहा है।

IND vs PAK Final in Asia Cup 2023 Final : भारत और पाकिस्तान के बीच वनडे मुकाबले में क्रिकेट फैंस जिस तरह से रोमांच की उम्मीद कर रहे थे, बारिश ने उस पर बुरी तरह पानी फेर​ दिया। दो सितंबर के मैच का इंतजार भारत और पाकिस्तान ही नहीं, पूरी दुनिया के फैंस कर रहे थे। मुकाबला शुरू भी हुआ, रोहित शर्मा ने कुछ बढ़िया स्ट्रोक खेलकर ये भी बताने की कोशिश की कि ये मैच हाईवोल्टेज होने वाला है, लेकिन बारिश ने खेल खराब कर दिया। जैसे तैसे दो बार की रुकावट के बाद भारत की पारी समाप्त हुई, लेकिन पाकिस्तानी टीम बल्लेबाजी के लिए नहीं उतर पाई। अब दस सितंबर को फिर से ये टीमें आमने सामने होंगी, लेकिन क्या इस बार भारत और पाकिस्तान के बीच फाइनल भी खेला जाएगा। ऐसा कैसे हो सकता है, चलिए जरा समीकरण समझने की कोशिश करते हैं।

भारत और पाकिस्तान के बीच कभी नहीं खेला गया है एशिया कप का फाइनल

एशिया कप का आगाज 1984 में हुआ था। ये वही साल था, जिससे एक साल पहले ही भारतीय टीम ने कपिल देव की कप्तानी में पहला वनडे विश्व कप जीता था। साल 1984 से लेकर अब तक कभी ऐसा नहीं हुआ है कि भारत और पाकिस्तान की टीमें फाइनल में आमने सामने हुई हों। ये अलग बात है कि दोनों टीमों विजेता बनी हैं, लेकिन एक दूसरे को हराकर कभी नहीं। अब जरा इस बार के समीकरण समझने की कोशिश करते हैं। भारत और पाकिस्तान ने सुपर 4 में एंट्री कर ली है। पाकिस्तान ने एक मैच जीतकर फाइनल में जाने की ओर इशारा कर दिया है। अब अगला मैच दस सितंबर को भारत और पाकिस्तान के बीच खेला जाएगा। अगर टीम इंडिया इस मैच को जीत जाती है तो उसके भी पाकिस्तान की तरह दो अंक हो जाएंगे। इसके बाद टीम इंडिया को श्रीलंका और बांग्लादेश को भी हराना होगा, जो 12 और 15 सितंबर को खेले जाएंगे। इस तरह छह अंक लेकर टीम इंडिया फाइनल में सीधे सीधे एंट्री कर जाएगी।

पाकिस्तानी टीम ऐसे कर सकती है फाइनल के लिए क्वालीफाई 
अब जरा पाकिस्तान की बात करते हैं। पाकिस्तान के पास दो अंक हैं। भारत से हार के बाद भी उसके पास उतने ही अंक रहेंगे। पाकिस्तानी टीम जिस तरह का प्रदर्शन कर रही है, उससे नहीं लगता कि श्रीलंका की टीम उसे हरा पाएगी। ऐसे में श्रीलंका को हराकर ये टीम भी चार अंक हासिल कर सकती है। यानी भारत के हो गए छह अंक पाकिस्तान के पास रहे चार अंक। श्रीलंका को भारत और पाकिस्तान दोनों हरा देंगे तो उसके पास अधिक से अधिक दो ही अंक रह सकते हैं। वहीं बांग्लादेश को पाकिस्तान हरा चुका है और टीम इंडिया भी हरा देती है तो उसके पास भी दो ही अंक ज्यादा से ज्यादा हो पाएंगे, अगर ये टीम श्रीलंका को हरा देती है। ऐसे में केवल अंकों के आधार पर ही फाइनल की दो टीमें तय हो जाएंगी, यानी नेट रन रेट का मामला यहां खत्म हो जाएगा।

एक मैच हारकर भी टीम इंडिया ऐसे कर सकती है फाइनल में एंट्री 
हां, मामला वहां फंसा सकता है कि अगर टीम इंडिया तीन में से एक भी मैच हार जाती है तो उसके पास अधिक से अधिक चार ही अंक रहेंगे। ऐसे में दो से ज्यादा टीमें ऐसी हो सकती हैं, जो चार अंक ले चुकी होंगी। चलिए मान लेते हैं कि टीम इंडिया पाकिस्तान से जीत जाती है, लेकिन श्रीलंका और बांग्लादेश में से किसी से हार जाती है। ऐसे में बांग्लादेश श्रीलंका को हराकर चार अंक ले सकता है। वहीं श्रीलंका की टीम अगर बांग्लादेश को हरा देती है तो उसके भी चार अंक हो सकते हैं। यानी अगर सही मायने में कहें तो भारत बनाम पाकिस्तान मैच के बाद जो सबसे अहम मुकाबला होगा, वो होगा श्रीलंका और बांग्लादेश का मैच। इससे कम से कम ये तो समझ में आ ही जाता है कि यहां पर एक एक मुकाबला कड़ा और बड़ा होगा। जो जीतेगा वही चैंपियन बनने की ओर एक और कदम बढ़ा देगा।